उत्तराखंड जरा हटके रामनगर

टैक्सी ऑपरेटरों ने टैक्सियों से कैरियर उतारने के विरोध में टैक्सी चालको का एआरटीओ कार्यालय में धरना प्रदर्शन।

Spread the love

टैक्सी ऑपरेटरों ने टैक्सियों से कैरियर उतारने के विरोध में टैक्सी चालको का एआरटीओ कार्यालय में धरना प्रदर्शन।

 

रोशनी पाण्डेय – प्रधान संपादक

रामनगर। सल्ट की ‘मां मौन देवी गुजडू गढ़ी टैक्सी वैलफेयर सोसाइटी मैनाकोट’ के टैक्सी ऑपरेटरों ने मंगलवार को टैक्सियों की छतों से कैरियर उतारने के खिलाफ एआरटीओ कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया। पूर्व ब्लाक प्रमुख संजय नेगी के नेतृत्व में प्रदर्शन करने पहुंचे टैक्सी ऑपरेटरों ने कहा कि एआरटीओ कार्यालय उतारे गए कैरियर वापस करे और कैरियर को लेकर किए गए चालान निरस्त किए जाएं।

यह भी पढ़ें 👉  वन निगम कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर किया धरना प्रदर्शन।

 

 

धरना स्थल पर हुई सभा मे वक्ताओं का कहना था कि लोक चुनाव में लगाई गई टैक्सियों को तुरंत भुगतान करने, ओखलढूंगा-बेतालघाट क्षेत्र समेत कई स्कूलों में चल रही निजी गाड़ियों को हटाने, निजी वाहनों का व्यावसायिक प्रयोग बंद किया जाए । साथ ही सवाल सवाल किया कि कोटद्वार एआरटीओ कार्यालय वाहनों को राज्य परमिट दे रहा है, जबकि हल्द्वानी आरटीओ कार्यालय मंडलीय परमिट दे रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  रामनगर में इनरव्हील क्लब द्वारा वृक्षारोपण कार्यक्रम का किया सफल आयोजन।

 

 

ऐसे में हल्द्वानी रामनगर से भी राज्य परमिट दिए जाएं। ऑल इंडिया या राज्य परमिट की गाड़ियों को नैनीताल जाने से न रोकने, न्य राज्यों से आ रही गाडि़यों के चालकों के पास हिल ड्राइविंग लाइसेंस अनिवार्य करने और ऑलओवर एप की गाड़ियों का का यहां प्रवेश रोकने और रामनगर एआरटीओ में पंजीकृत गाड़ियों का फिटनेस यहीं से बनाने की मांग की।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल पुलिस ने 46 लाख के 269 खोये मोबाईल किये बरामद, फरियादियों ने जनपद के SSP प्रहलाद मीणा का किया आभार।

 

 

 

एआरटीओ संदीप गुप्ता ने टेक्सी चालको व मालिको को आश्वस्त किया कि उनके स्तर की जो समस्या है उसका निदान किया जाएगा। लोक सभा चुनाव में लगे वाहनों के भुगतान सम्बंधित समस्या के निदान के लिए निर्वाचन आयोग को अवगत कराया जाएगा।