उत्तराखंड उधम सिंह नगर जरा हटके

बेहतर शिक्षा और स्वास्थ्य सरकार की प्राथमिकता: डॉ. धन सिंह रावत

Spread the love

बेहतर शिक्षा और स्वास्थ्य सरकार की प्राथमिकता: डॉ. धन सिंह रावत

रोशनी पाण्डेयप्रधान संपादक

बेहतर शिक्षा व बेहतर स्वास्थ्य सरकार की प्राथमिकता है , जिसके लिए बजट की कोई कमीं नहीं है यह बात प्रदेश के चिकित्सा स्वास्थ्य व चिकित्सा शिक्षा, सहकाारिता, उच्च शिक्षा, विद्यालयी शिक्षा एवं संस्कृत शिक्ष मंत्री डॉ0 धन सिंह रावत ने रविवार को मंडी सभागार काशीपुर में स्वास्थ्य विभाग, राजकीय मेडिकल कालेज, खाद्य एवं औषधि प्रशासन, सहकारिता, उच्च शिक्षा, विद्यालयी शिक्षा एवं संस्कृत शिक्षा के जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक में कही।

 

उन्होंने खाद्य एवं औषधि विभाग के अधिकारी को मुख्य चिकित्साधिकारी से बैठक करने व जनपद में झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ढाबे व होटल के लोगों से बैठक करें व उन्हें गुणवत्तापूर्ण खाद्य सामग्री उपयोग करने हेतु जागरूक करने के निर्देश दिए साथ ही उन्हें मिलेट्स का भोजन में उपयोग के प्रति जागरूक करने के भी निर्देश दिए। मा. मंत्री जी ने उच्च शिक्षा के अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी विद्यार्थियों के लिए पुस्तकों सहित पठन-पाठन सामग्री आदि का पूर्ण प्रबंध होना चाहिए, साथ ही सभी को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिलनी चाहिए। उन्होंने बाजपुर व नानकमत्ता में कालेज निर्माण के लिए अधिकारियों को व्यक्तिगत रूप से रूचि लेने व शीघ्र भूमि चिन्हित कर डीपीआर बनाकर शासन को भेजने के निर्देश दिए इसके लिए उन्होंने जिलाधिकारी उदयराज सिंह से फोन पर वार्ता करते हुए बाजपुर डिग्री कॉलेज के लिए चिन्हित कि गई भूमि से कब्जा हटाने के निर्देश दिये। उन्होंने शिक्षा विभाग के अधिकारियों से कहा कि जो विद्यालय जो मानसून काल में आपदा से प्रभावति हो सकते है वहॉं पुनः निर्माण के लिए धनराशि शासन से जल्द ही प्रेषित कर दी जायेगी। उन्होने कहा कि जिन शैक्षिक संस्थानों में छात्र संख्या अधिक है वहॉं अतिरिक्त कक्ष बनाने के लिए डीपीआर बनाकर शासन को प्रेषित करने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि अगस्त माह तक जनपद में शत-प्रतिशत शिक्षकों की नियुक्ति कर दी जायेगी।

यह भी पढ़ें 👉  सैन्य धाम निर्माण के संबंध में मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में आयोजित हुई उच्च स्तरीय समिति की बैठक, शहीद सैनिकों के आश्रितों को दी जाने वाली आर्थिक सहायता बढ़ाये जाने के दिए निर्देश।

 

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने माननीय मंत्री को अवगत कराया कि जनपद में डाक्टर व स्टाफ की कमी है जिस पर माननीय मंत्री ने बताया कि 500 डाक्टर की नियुक्ति का अधियाचन भेजा गया है जिस पर शीघ्र ही नोटिफिकेशन आ जायेगा। उन्होंने बताया कि जनपद के लिए 30 डाक्टर की व्यवस्था तत्काल उपलब्ध कराये जायेगे एवं जनपद में नर्स व एएनएम के रिक्त पदों को शीघ्र भरे जायेंगे। इसके साथ ही उन्होने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिये कि जनपद में 3 यूनिट ऐसी बनाये जिसमें सभी डाक्टर उपलब्ध रहेंगे।
उन्होंने राजकीय मेडिकल कॉलेज के निर्माणधीन कार्य की प्रगति की समीक्षा की साथ ही उन्होंने डा0 के0एस0 शाही को बेहतर कार्य करने के लिए सरहना करते हुए बधाई दी। बैठक में निवर्तमान मेयर ऊषा चौधरी, जिलाध्यक्ष भाजपा गुंजन सुखीजा, पूर्व विधायक डॉ0 शैलेन्द्र मोहन सिंघल, प्रदेश मंत्री गुरविन्दर सिंह चन्डोक, निदेशक उच्च शिक्षा प्रो0 अंजु अग्रवाल, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 मनोज शर्मा, मुख्य शिक्षा अधिकारी केएस रावत, जिला शिक्षा अधिकारी डीएस राजपूत, उपजिलाधिकारी गौरव चटवाल, सहित सम्बन्धित विभागीय अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें 👉  अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ नवीन चन्द्र तिवारी ने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र लालकुआँ का औचक निरीक्षण किया।