उत्तराखंड जरा हटके रामनगर

पर्यटन गतिविधियां बढ़ाने के लिए कार्बेट के फाटो जोन में बनाए जाएंगे दो ट्री हाउस व पांच ईको हट।

Spread the love

पर्यटन गतिविधियां बढ़ाने के लिए कार्बेट के फाटो जोन में बनाए जाएंगे दो ट्री हाउस व पांच ईको हट।

 

उधम सिंह राठौर – प्रधान सम्पदाक

 

विश्व प्रसिद्ध जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क से सटे तराई पश्चिम वन प्रभाग के फाटो पर्यटन जोन में जल्द ही 20 से अधिक पर्यटक एक साथ रात्रि विश्राम का आनंद उठा सकेंगे. इसके लिए शासन ने विभाग को एक करोड़ रुपए का बजट स्वीकृत किया है. इस बजट से पर्यटकों के लिए दो नए ट्री हाउस व पांच ईको हट का निर्माण कराया जाएगा. उसके साथ ही जोन की सुरक्षा चौकियां, मार्ग आदि को भी दुरुस्त करने की कार्रवाई की जा रही है।

यह भी पढ़ें 👉  सांसद अजय भट्ट का ग्रामीण क्षेत्रों में स्वागत, विकास के प्रति जताया संकल्प

 

 

 

गौरतलब है तराई पश्चिमी के फाटो पर्यटन जोन ने डे विजिट सफारी के मामले में कॉर्बेट के अलग-अलग जोनों को भी इस वक्त पीछे छोड़ दिया है. क्योकि कॉर्बेट पार्क आने वाले पर्यटकों की डे सफारी के लिए यह जोन पहली पसंद बना हुआ है.बता दें कि फाटो में ट्रायल के लिए वनाधिकारियों ने एक ट्री हाउस का निर्माण कराया था. इसके साथ ही एक अन्य कमरे को भी पर्यटकों के रात्रि विश्राम की बुकिंग के लिए शुरू किया था. वहीं एक ही ट्री हाउस होने से उतने ज्यादा पर्यटक रात्रि विश्राम पर नहीं आ रहे थे,जिसको लेकर और ट्री हाउस के निर्माण को लेकर प्रस्ताव भेजा था.जिससे पर्यटन व्यवसायियों में भी खुशी की लहर है।

यह भी पढ़ें 👉  "सड़क हादसा गाड़ी गिरने से बच्चे की मौत, तीन लोगों  गंभीर घायल

 

 

 

पर्यटन व्यवसाय संजय छिम्वाल ने कहा कि एक ही ट्री हाउस होने से ज्यादा तादाद में पर्यटक फाटो पर्यटन जोन में रात्रि विश्राम पर नहीं आ रहे थे. इसके बनने से अब ज्यादा पर्यटक यहां आ सकेंगे, जिससे आसपास पर्यटन से जुड़े कारोबारी को एक तरफ रोजगार मिलेगा, दूसरा विभाग को राजस्व की प्राप्ति भी होगी. कहा कि सरकार और वन विभाग को यहां के मार्गों पर भी ध्यान देना चाहिए. क्योंकि बरसात के सीजन में मार्ग पर जिप्सियां फंस जाती हैं.मार्ग ठीक होंगे तो सैलानियों को आवाजाही में परेशानी नहीं होगी।

 

यह भी पढ़ें 👉  आम जनता के लिए जन्म-मृत्यु पंजीकरण की प्रक्रिया अत्यन्त सरल बनाने के  निर्देश जारी मुख्य सचिव श्रीमती राधा रतूड़ी

 

वहीं तराई पश्चिम वन प्रभाग के डीएफओ पीसी आर्या ने बताया कि फाटो में रात्रि विश्राम को बढ़ाने के लिए शासन को पत्र भेजा था. क्योंकि ज्यादा पर्यटकों के रुकने की क्षेत्र में व्यवस्था ना होने के चलते पर्यटक यहां नहीं रुक पाते थे. जिसको लेकर दो ट्री हाउस बढ़ाने की अनुमति मांगी थी. उन्होंने बताया कि शासन ने रात्रि विश्राम को बढ़ाने की अनुमति दे दी है. साथ ही एक करोड़ रुपए का बजट भी स्वीकृत कर दिया है. इस बजट से पर्यटकों के लिए दो नए ट्री हाउस व पांच हट का निर्माण कराया जाएगा. साथ ही जोन की सुरक्षा चौकियां, मार्ग आदि को भी दुरुस्त किया जाएगा।