उत्तराखंड उधम सिंह नगर क्राइम

“काशीपुर दुष्कर्म मामला: “काशीपुर में दुष्कर्म के मामले में सुरक्षिति की मांग: , पीड़ित छात्र ने उठाई इंसाफ की मांग”

Spread the love

“काशीपुर दुष्कर्म मामला: “काशीपुर में दुष्कर्म के मामले में सुरक्षिति की मांग: , पीड़ित छात्र ने उठाई इंसाफ की मांग”

 

रोशनी पांडे  – प्रधान संपादक

काशीपुर कोतवाली में एक पीड़ित छात्र ने अपने साथ हुए दुष्कर्म के मामले में एक शिकायत दर्ज कराई थी और प्राप्त सबूत होने के बावजूद कोतवाली पुलिस ने अपराधी को राहत देते हुए हाल की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया जिसका लाभ अपराधी आरिफ खान को पहुंचते हुए कोर्ट से राहत मिल गई मामला यहीं शांत नहीं हुआ उसके बाद उसके भाई वसीम खान ने पीड़ित छात्रा को अपना केस वापस लेने और जान से मारने और उसके फोटो और वीडियो वायरल करने की धमकी दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  51 वर्षीय वयस्क हथिनी 'चंचल' की मृत्यु: कार्बेट टाइगर रिजर्व में गजराज हाथी के हमले के बाद उपचार के दौरान निधन

 

इसकी शिकायत छात्र ने कोतवाली काशीपुर में दर्ज कराई लेकिन कोतवाली पुलिस की लापरवाही कहें या फिर भ्रष्टाचारी कहें जो पीड़ित के प्रार्थना पत्र पर संज्ञान ना लेते हुए अपराधी व अपराधी के भाई वसीम आदिल और आरिफ को थाने तक बुलाने तक की जहमत नहीं की गई जब पीड़ित पूरी तरीके से मजबूर लाचार हो गई तो मजबूरन उसने मीडिया का सहारा लेते हुए मीडिया से गुहार लगाई है जब इस विषय में पुलिस क्षेत्रीय अधिकारी काशीपुर से बात की गई तो पुलिस क्षेत्रीय अधिकारी अनुष्का बडोरा ने संज्ञान लेते हुए कार्रवाई की बात कही सवाल उठता है एक तरफ उधम सिंह नगर के तेजतर्रार पुलिस कप्तान अपराधियों को सलाह के पीछे भेजने का काम कर रहे हैं दूसरी तरफ बात करें कोतवाली काशीपुर की तो काशीपुर कोतवाली में पीड़ित की सुनवाई नहीं हो रही है क्या काशीपुर पुलिस कोई बड़ी घटना का इंतजार कर रही है जब हमने पीड़ित से जानकारी ली तो पीड़ित का कहना है की आरिफ और उसका भाई वसीम और आदिल यह लोग मेरे को परेशान कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार ऊधम सिंह नगर पुलिस ने अवैध कसीनो से 12 लोगों को किया गिरफ्तार, 5 लाख से अधिक नकदी बरामद

 

 

 

मेरे घर वालों को धमका रहे हैं और घर से निकलना मुश्किल हो गया है मुझे टैक्स मैसेज भेज कर जान से मारने की धमकी दे रहे हैं कह रहे हैं अपना मुकदमा वापस ले ले वरना तुझे और तेरे घर वालों को ठिकाने लगा देंगे एक तरफ उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी अपराध मुक्त उत्तराखंड बनाने की कवायत में लगे हैं दूसरी तरफ काशीपुर पुलिस अपराधियों को शह देकर पीड़ित को दरदरा की ठोकरे खाने पर मजबूर होना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने  जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क में  की सफारी ।

 

 

जांच अधिकारी भूमिका पांडे की तो वह भी पीड़ित को धमकाने में लगी है और कह रही है कि तेरे कैसे को हम FR लगाकर बंद कर देंगे जिस तरीके से पीड़ित छात्रा को डराया धमकाया जा रहा है उसके परिवार में पीड़ित छात्रा पूरी तरीके से डिप्रेशन में है जब हमने पुलिस क्षेत्र अधिकारी काशीपुर से बात की तो उन्होंने कहा कि मैं जांच पड़ताल कर अपराधियों के खिलाफ करवाई करूंगी जिस पर पीड़ित को भी पूरा भरोसा दिलाते हुए पीड़ित ने को काशीपुर से इंसाफ करने की बात कही है।