उत्तराखंड उधम सिंह नगर जरा हटके

“डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर श्रद्धा समर्पित”

Spread the love

“डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर श्रद्धा समर्पित”

रोशनी पाण्डेयप्रधान संपादक

रूद्रपुर। भारतीय जनसंघ के संस्थापक डा श्यामाप्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर निवर्तमान मेयर रामपाल सिंह एवं किसान मोर्चा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौहान के नेतृत्व में भाजपाईयों ने गांधी पार्क में डा- मुखर्जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किये और उनके आदर्शाे पर चलने का संकल्प लिया।

 

 

इस अवसर पर निर्वतमान मेयर रामपाल सिंह ने कहा कि डॉ- श्यामाप्रसाद मुखर्जी, शिक्षाविद, चिंतक और जनसंघ के संस्थापक थे। वे मानवता के उपासक एवं सिद्धांतवादी थे। डा- श्यामा प्रसाद मुखर्जी पहले व्यक्ति थे जिन्होंने जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा दिए जाने के खिलाफ आवाज बुलंद की थी। डॉ- मुखर्जी देश के प्रथम उद्योग मंत्री थे। राष्ट्रीय हितों की प्रतिबद्धता को अपनी सर्वाेच्च प्राथमिकता मानने के कारण उन्होंने मंत्रिमंडल से त्यागपत्र दे दिया। बहुत कम उम्र में वे कलकत्ता विश्व विद्यालय के कुल पति बन गए थे। डॉ- मुखर्जी जम्मू- कश्मीर को भारत का पूर्ण और अभिन्न अंग बनाना चाहते थे। उन्होंने 1951 में भारतीय जन संघ की नींव रखी। उनके विचार आज भी प्रासंगिक हैं। वह समाज के लिए आदर्श पुरूष थे।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखण्ड के टिहरी गढ़वाल में 2400 मेगावाट के टिहरी पावर कॉम्प्लेक्स में चल रहे कार्यों का निरीक्षण किया।

 

 

किसान मोर्चा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौहान ने कहा कि डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी देश के लिए उनका योगदान कभी भुलाया नहीं जा सकता। डॉ मुखर्जी जम्मू कश्मीर को भारत का पूर्ण और अभिन्न अंग बनाना चाहते थे। उन्हीं के विचारों से प्रेरित होकर केन्द्र की मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर से 370 हटाने के साथ ही इसे अलग राज्य का दर्जा देकर उनके सपनों को साकार किया है। डा. मुखर्जी के आदर्शों से आज समाज को प्रेरणा लेने की जरूरत है।
इस अवसर पर भाजपा जिला उपाध्यक्ष राकेश सिंह, अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष परवेज खान निवर्तमान पार्षद विधान राय,निमित्त शर्मा, प्रमोद शर्मा, सुशील चौहान, आयुष तनेजा, शैलेंद्र रावत,डॉ राकेश सिंह, शिव कुमार शिबू, आयूब अंसारी,असलम सलमानी, विनय विश्वास, तरुण गहलौत, विकास सिंह वीर पाल सिंह, अश्विनी शर्मा, नारायण जोशी, विजय बाजपेई,चंदन प्रजापति, श्यामपद मंडल, सुशांत गोलदार, गोपाल रंग, लकीकांत विश्वास,अमूल्य साना, अमूल गोलदार,रवि सरकार, विपुल स्वर्णकार, बाबूराम प्रजापति, नित्यानंद,विश्वास उदय सरकार, दुर्गेश मौर्य, हरीश चौधरी आदि लोग उपस्थित रहे ।।

यह भी पढ़ें 👉  मुख्यमंत्री ने टनकपुर, बनबसा के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का किया स्थलीय व हवाई निरीक्षण, बाढ़ प्रभावितों से मिलकर सुनी समस्याएं।