उत्तराखंड जरा हटके रामनगर

एक बार फिर सोमांश नें बढ़ाया शहर और प्रदेश का मान

Spread the love

*ेएक बार फिर सोमांश नें बढ़ाया शहर और प्रदेश का मान

रोशनी पांडे प्रधान संपादक

बॉलीवुड कलाकार शहर रामनगर के लिटिल चैम्प सोमांश सिंह डंगवाल नें एकबार फिर से तहलका मचा दिया है, ये छोटा नन्हा कलाकार अपनी कलाकारी और मेहनत के बल पर बड़ो बड़ो को नाको चने चबवा रहा है, बॉलीवुड डांस से एंट्री के बाद सोमांश नें अपनें करियर पर लगातार बढ़त ही बनायीं हुई है, अभी कुछ ही दिन बीते वह क्रिकेट की दुनिया मे आईपीएल मे कमेंट्री करते हुवे नजर आये थे।

यह भी पढ़ें 👉  SSP NAINITAL ने कहा बाबा जी के दरबार में आये भक्तों की सेवा करना उनको सुविधा प्रदान करना हमारी ड्यूटी एवं कर्तव्य

 

 

और अब आगे बढ़ते हुवे ये छोटे लिटिल चैम्प बिना क्रिकेट खेले वर्ल्ड कप 2024 मे कमेंट्री करके फिर से धमाल मचाने को तैयार हो गए है, सोमांश की जितनी तारीफे की जाये कम है, क्योंकि बॉलीवुड मे केरियर बनाने वाले जो लोग सपने मे सोचते है,वो सोमांश पहले ही कर डालते है,उनके पिता भुवन सिंह डंगवाल जो की नीवर्तमान सभासद है उनके द्वारा बताया गया की पहले सोमांश कलर्स टीवी के साँथ काम कर रहे थे, अब वह स्टार स्पोर्ट्स के साँथ काम कर रहा है, सोमांश आज़ केवल मेरा ही बेटा नहीं,ज़ब से वह बॉलीवुड मे काम कर रहा है,वो इस शहर और प्रदेश का बेटा बन गया,

यह भी पढ़ें 👉  राजभवन नैनीताल में हुआ 19वें गवर्नर्स कप गोल्फ टूर्नामेंट: गोल्फरों ने साझा किया अपना अनूठा अनुभव

 

 

हमें उस पर गर्व है,और सबसे ज्यादा खुशी तब होती है,जब कई कार्यक्रमो मे हमें सोमांश के नाम से जाना जाता है,लोग बधाईया देते है या सोमांश की वजह से हमारा भी मान सम्मान होता है,और ेएक पिता होने के नाते यह हमेशा गौरव का पल है,सोमांश बचपन से ही प्रतिभाशाली बालक रहा है, जितना वह अपनें काम के लिए समर्पित है,उतना ही वह पढ़ाई,खेल कूद और अन्य एक्टिविटी मे भी प्रतिभाग करता है।आज़ हमें ही नहीं अपितु पुरे सगे संबंधियों, शहर वासियो व प्रदेशवासियो को सोमांश पर गर्व है, हम सभी उसकी उज्जवल भविष्य हेतु प्रार्थना करते है। आज़ जब से हमें पता लगा की वह वर्ल्ड कप मे कमेंट्री कर रहा है,परिवार मे सभी ख़ुश है और उन्हें लोगो की बधाईया मिल रही है।

यह भी पढ़ें 👉  स्पा सेन्टरों में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल ने किया औचक निरीक्षण, अनियमितता पाये जाने पर 83 पुलिस एक्ट के तहत किया चालान।