उत्तराखंड जरा हटके नैनीताल

“जनता के सुधार के लिए एक कदम: उत्तराखंड में राष्ट्रीय लोक अदालत द्वारा सुलह समझौते का आयोजन”

Spread the love

“जनता के सुधार के लिए एक कदम: उत्तराखंड में राष्ट्रीय लोक अदालत द्वारा सुलह समझौते का आयोजन”

 

रोशनी पांडे  – प्रधान संपादक

 

माननीय राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली के दिशा निर्देशानुसार एवं माननीय राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण नैनीताल के मार्गदर्शन में दिनांक 09.03.2024 को उत्तराखंड के सभी जिलों में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया जा रहा है। राष्ट्रीय लोक अदालत में दीवानी वाद जैसे की धन वसूली, संपति, वैवाहिक आदि अन्य दीवानी वादों का निस्तारण आपसी सुलह समझौते के आधार पर किया जाएगा जिसमे न्यायालय शुल्क वापसी का भी प्रावधान है। इसके अतिरिक्त भी राष्ट्रीय लोक अदालत में सभी प्रकार के शामानीय आपराधिक वाद, चैक बाउंस केस, का भी सुलह समझौते के आधार पर निस्तारण किया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  मृतक वनकर्मियों के परिजनों को 10 लाख रुपये की अनुग्रह धनराशि दिए जाने के मुख्यमंत्री ने दिए निर्देश

 

 

राष्ट्रीय लोक अदालत में कमर्शियल विवाद,श्रम विवाद,पारिवारिक विवाद,मोटर वाहन चलन संबंधी वाद,आदि प्रकार के वादों का शमन के आधार पर निस्तारण किया जाता है। लोक अदालत में पारित अवार्ड के विरुद्ध अपील नहीं होती है। राष्ट्रीय लोक अदालत में बिजली,पानी,बीमा ,बैंक संबंधी प्री लिटिगेशन वादों का भी निस्तारण किया जाता है। लोक अदालत से पूर्व, माननीय उत्तराखंड राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण नैनीताल से प्राप्त दिशानिर्देश अनुसार, समस्त जिलों में ,जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा पुलिस,बैंक,बीमा कंपनी, आर टी ओ,एवं अन्य विभागों के साथ ,लोक अदालत के सफल संचालन हेतु बैठकें भी आयोजित की जाएंगी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड की पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वर्गीय इंदिरा हृदेश की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि सभा आयोजित कर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनका भावपूर्ण स्मरण किया।

 

 

माननीय उत्तराखंड राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण नैनीताल के दिशा निर्देशानुसार, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण नैनीताल द्वारा जिला नैनीताल,मुख्यालय स्थित जिला न्यायालय , एवं बाह्य न्यायालय हल्द्वानी एवं रामनगर में दिनांक 09.03.2024 को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया जा रहा है। अतः आम जन मानस से अपील है कि राष्ट्रीय लोक अदालत में संबंधित वादों के सुलह समझौते के आधार पर निस्तारण हेतु समय से माननीय न्यायालय उपस्थित आकर लोक अदालत को सफल बनाएं।

यह भी पढ़ें 👉  राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने  जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क में  की सफारी ।