उत्तराखंड जरा हटके नैनीताल

कैंचीधाम मेले की तैयारियों को लेकर मंडलायुक्त दीपक रावत की अध्यक्षता में बैठक आयोजित

Spread the love

 

कैंचीधाम मेले की तैयारियों को लेकर मंडलायुक्त दीपक रावत की अध्यक्षता में बैठक आयोजित

रोशनी पाण्डेयप्रधान संपादक

15 जून को कैंचीधाम में आयोजित होने वाले मेले की व्यवस्थाओं के सम्बन्ध में सोमवार को मण्डलायुक्त दीपक रावत की अध्यक्षता में नैनीताल क्लब सभागार में बैठक का आयोजन किया। आयुक्त दीपक रावत ने बैठक कैंची महोत्सव के लिए पार्किंग, स्वास्थ्य सुविधा, बिजली- पानी, यातायात,शटल सेवा आदि की विस्तृत जानकारी ली।

आयुक्त दीपक रावत ने बताया कि मेले के दौरान यदि किसी की अचानक ज्यादा तबियत बिगड़ जाती है। या प्राथमिक उपचार के बाद किसी मरीज को हायर सेंटर भेजा जाता है। ऐसे मरीज को हेली सेवा के माध्यम से हायर सेंटर भेजा जाएगा।

कोश्याकुटोली एसडीएम बिपिन चंद्र पंत ने बताया कि मंदिर परिसर आस पास हॉर्न,प्लास्टिक का प्रयोग धूम्रपान, तम्बाकू, सोशल मीडिया, फोटोग्राफी – वीडियोग्राफी,कैंची धाम से भवाली के मध्य फड़ खोखा संचालन, कैंची धाम से भवाली के मध्य में मार्ग- किनारे विभिन्न संगठनों / व्यक्तियों द्वारा निःशुल्क खाद्य एवम् पेय पदार्थों के वितरण पर पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रहेगा। बताया कि भवाली और गरमपानी में पार्किंग के लिए 14 स्थलों को चिह्नित किया गया।जिसमें 15 सौ अधिक छोटे बड़े वाहन पार्क हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  कैची धाम में सुरक्षा व्यवस्था का डीआईजी कुमायूँ एवम एसएसपी नैनीताल ने लिया जायजा पैदल पथ की बैरिकेटिंग और स्टैन्थ की सुरक्षा जांच के उपरांत हुई डी ब्रीफ़िंग।

 

 

बताया कि भवाली, भीमताल, हल्द्वानी से आने वाले वाहनों को नैनीबैंड बाई पास , भवाली मैदान, रानीखेत रोड में पार्क किया जाएगा। जबकि नैनीताल, ज्योलीकोट आदि इलाकों से आने वाले वाहनों को मस्जिद तिराहा, सेनिटोरियम बाई पास में पार्क की जाएगी, शटल सेवा से कैंची को भेजा जाएगा। साथ ही गरमपानी, रानीखेत, अल्मोड़ा से आने वाले वाहनों को गरम पानी में पार्किंग, वहां पनीराम के ढाबे तक शटल के माध्यम से भेजा जाएगा।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षण पी एन मीणा ने बताया कि पार्किंग स्थलों को दस जोन में बांटा गया है। साथ ही मंदिर परिसर में 100 मीटर में बैरेकेट लगाए गए हैं, जिसे लोगों को आवाजाही में परेशानी का सामना नहीं करने पड़े। बताया कि हल्द्वानी से अल्मोड़ा, रानीखेत या मैदानी इलाकों में आने जाने वाले वाहनों को वाया रामगढ-क् वारब से भेजे जाएंगे, जबकि पिथौरागढ़ आने जाने वाले वाहनों को व वाया खुटानी, पदमपुरी मार्ग से आवाजाही करेंगे। बताया कि भवाली और गरमपानी से शटल के लिए करीब 100 से अधिक बसें, 500 छोटे वाहनों की व्यवस्था की है। आयुक्त दीपक ने कहा कि भवाली की पार्किंग फुल होने की स्थिति पर भीमताल,हल्द्वानी से शटल सेवा चलाने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें 👉  सीएस श्रीमती राधा रतूड़ी ने विभिन्न विभागों को 24 घंटे की डेडलाइन देकर अवशेष प्रोजेक्ट नाबार्ड को भेजने के निर्देश दिए

 

 


अधिकारियों ने बताया कि इस बार मार्गों में विभिन्न संगठनों -व्यक्तियों द्वारा निःशुल्क खाद्य एवम् पेय पदार्थों के वितरण पर पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रहेगा।जिस पर आयुक्त ने कहा कि ऐसे सामाजिक कार्यकर्ताओं, संगठनों जो निशुल्क,खाद्य-पेय पदार्थों के वितरण करना चाहते हैं,वो पार्किंग स्थल में खाद्य-पेय पदार्थ वितरण कर सकते हैं, साथ ही उन्होंने कहा कि पार्किंग स्थल में भक्तों के खान पान के लिए फूड वैन आदि की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। आयुक्त ने कहा कि सभी पार्किंग स्थलों में विद्युत की उचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने नगर पालिका भवाली को कैंची धाम मार्ग में पर्यावरण मित्रों की तैनाती सुनिश्चित करने की बात कही। बैठक में डीआईजी योगेंद्र रावत, एसएसपी पीएन मीणा, एडीएम शिव चरण द्विवेदी समेत सभी विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  नगर पालिका अल्मोड़ा स्थित जन सुविधा केंद्र* *अभी भीं पुराने सिस्टम पर ही चल रहे है सभी कार्य* *सामाजिक कार्यकर्ता संजय पांण्डे की पहल।