चंपावत उत्तराखंड जरा हटके

स्वच्छता ही सेवा पखवाड़ा”* अंतर्गत  *जिले की पहली ग्राम पंचायत में स्थापित कंपैक्टर यूनिट का जिलाधिकारी नवनीत पांडे द्वारा शुभारंभ किया गया*।

Spread the love

स्वच्छता ही सेवा पखवाड़ा”* अंतर्गत  *जिले की पहली ग्राम पंचायत में स्थापित कंपैक्टर यूनिट का जिलाधिकारी नवनीत पांडे द्वारा शुभारंभ किया गया*।

रोशनी पांडे प्रधान संपादक

चम्पावत“स्वच्छता ही सेवा पखवाड़ा”* अंतर्गत शुक्रवार को *जिले की पहली ग्राम पंचायत में स्थापित कंपैक्टर यूनिट का जिलाधिकारी नवनीत पांडे द्वारा शुभारंभ किया गया*। स्वच्छता के क्षेत्र में अग्रणी विकासखंड लोहाघाट अंतर्गत ग्राम पाटन पाटनी जो स्वच्छता के क्षेत्र में हमेशा ही अग्रणी रहा है,इस गांव में स्थापित कंपैक्टर शेड/ विकास खंड स्तरीय *प्लास्टिक कचरा प्रबंधन इकाई एकत्रीकरण/छटाई केंद्र से विकासखंड के 67 ग्राम पंचायत लाभान्वित होंगी।* छटाई केंद्र का निर्माण स्वजल तथा जिला पंचायत द्वारा संयुक्त रूप से स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अंतर्गत किया गया है। जिसकी कुल लागत 16 लाख है।

 

 

 

कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों से उपस्थित जनता को संबोधित करते हुए *जिलाधिकारी नवनीत पाण्डे ने कहा कि जिस प्रकार (इकोसिस्टम) पारिस्थिकी तंत्र को बनाए रखे जाने हेतु प्रोटेक्ट टाइगर जैसे अभियान चलाए गए, उसी प्रकार प्लास्टिक उन्मूलन हेतु भी अब इस प्रकार के कार्य करने होंगे।* यह तभी संभव होगा जब इसमें आम जनमानस की भागीदारी होगी। *हमें इकोसिस्टम को बनाए रखना है तो हमें प्लास्टिक के उपयोग को कम करना होगा। उसे घर से रीसायकल करना होगा।* इस हेतु *आरआरआर पद्धति रिड्यूस (कम उपयोग करना) रीयूज (पुनः उपयोग करना) तथा रीसायकल (पुनः नए उत्पाद में बदलने/ उपयोग में लाना) के तहत कार्य करना होगा*। जिलाधिकारी ने कहा कि आज के दिन हम यह संकल्प लें कि *घर से कूड़े को अलग-अलग, सूखा कूड़ा अलग गीला कूड़ा अलग करके ही रखें।* गीले कूड़े से घर पर ही जैविक खाद भी बनाएं तभी हम पर्यावरण को बचा पाएंगे। जिलाधिकारी ने कहा कि पर्यावरण को स्वच्छ बनाने में हमें अपनी आदतों को बदलना होगा। *उन्होंने कहा कि कूड़े के प्रबंधन में हर एक व्यक्ति की भूमिका होनी चाहिए।* हम सभी को अपनी जिम्मेदारी सोचनी होगी। इस हेतु कूड़ा निस्तारण में अपना कुछ ना कुछ सहयोग अवश्य करें। *जिलाधिकारी ने कहा कि कंपैक्टर का लाभ तभी होगा जब सूखा व गीला कूड़ा अलग-अलग रखा जाए।* इस अवसर पर जिलाधिकारी द्वारा सभी लोगों व प्रतिभागियों को *स्वच्छता की शपथ भी दिलाई गई।

यह भी पढ़ें 👉  बुजुर्ग की लाठी बने सीएम धामी, पुष्कर धामी ने तुरंत किया समस्या का समाधान !

 

 

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी राजेंद्र सिंह रावत ने कहा कि कोई भी कार्य तभी सफल होता है जब सभी लोग एक टीम भावना से कार्य करें।* उन्होंने कहा कि हमें पर्यावरण को साफ एवं स्वच्छ बनाए रखने हेतु सभी को आपसी सहयोग व समन्वय से कार्य करना होगा, तथा स्वच्छता को अपनी आदत में शामिल करना होगा। इस अवसर पर आइटीबीपी लोहाघाट से आए सहायक कमांडेंट विक्रम सिंह ने कहा कि स्वच्छता के क्षेत्र में कंपैक्टर यूनिट लगाना एक बेहतर पहल है। इससे क्षेत्र वासियों के साथ-साथ आइटीबीपी आवासीय परिसर के लोगों को भी लाभ मिलेगा। इस मौके पर ग्राम प्रधान पाटन पाटनी श्रीमती जानकी बोरा ने कहा कि उनकी ग्राम पंचायत स्वच्छता के क्षेत्र में पूर्व से ही आगे आई है। ग्राम पंचायत द्वारा कंपैक्टर यूनिट स्थापित करने हेतु निशुल्क भूमि भी दी गई है। साथ ही ग्राम पंचायत द्वारा हर घर से कूड़ा एकत्रित कर उसके निस्तारण हेतु पूर्व से ही कूड़ा वाहन लगाने के साथ ही पर्यावरण मित्रों को तैनात किया गया है। उन्होंने कहा कंपैक्टर यूनिट को ग्राम पंचायत व महिला स्वयं समूह को संचालन हेतु दिया जाए।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखण्ड की महिलाएं वनाग्नि से जुड़ी चुनौतियों के समाधान में अहम भूमिका निभा सकती हैं राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह।

 

 

 

कार्यक्रम में विभिन्न जनप्रतिनिधियों ने अपने विचार व्यक्त किये। *इस मौके पर तीन पर्यावरण मित्रों व कार्मिकों को जिलाधिकारी द्वारा शॉल उड़ाकर सम्मानित किया गया।* सर पर ग्राम प्रधान पाटन पाटनी जानकी बोहरा, क्षेत्र पंचायत सदस्य गंगा प्रसाद पाटनी, सामाजिक कार्यकर्ता भुवन चौबे ,सचिन जोशी, प्रकाश बोहरा, मोहन पाटनी, अधिशासी अभियंता पेयजल निगम बी0 के0 पाल, जल संस्थान बिलाल यूनुस, खंड विकास अधिकारी अशोक अधिकारी सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक, आइटीबीपी लोहाघाट के जवान विभिन्न अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें 👉  राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने एआई तकनीक से निर्मित 'राजभवन मैत्री चैटबॉट' का किया लोकार्पण: ज्ञान और नवाचार का नया माध्यम